पंजाब इंजीनियरिंग कॉलेज (डीम्ड टू बी यूनिवर्सिटी) ने कल अपना 100 वां स्थापना दिवस विशेष केक काटने के साथ बड़ी धूम धाम से मनाया।

पंजाब इंजीनियरिंग कॉलेज (डीम्ड टू बी यूनिवर्सिटी) ने कल अपना 100 वां स्थापना दिवस विशेष केक काटने के साथ बड़ी धूम धाम से मनाया।

The only Alum to Relish the Cake — Mr Dharam Pal, Representing the Alumni as well as the UT Administration at the Institute

इसमें पीईसी के निदेशक डॉ बलदेव सेतिया, यू टी सलाहकार धर्म पाल, संस्थान के बोर्ड ऑफ गवर्नर्स के अध्यक्ष राजेंद्र गुप्ता, तकनीकी शिक्षा सचिव एस एस गिल, ग्रह सचिव नितिन कुमार यादव, और सीनियर सुपरिन्टेन्डेन्ट ऑफ़ पुलिस कुलदीप चहल विशिष्ट अतिथि के रूप में शामिल हुए।

समारोह में 100 फीट ऊंचा और 10 ीट त्रिज्या का एक विशाल गुब्बारा भी फहराया गया साथ ही 100 गुब्बारों को हवा में छोड़ने के एक दम साथ सारा वातावरण हर्षोउल्लास से महक उठा।

Chasing dreams of Alums — Kalpana Chawla & Prof Satish Dhawan

संस्थान के सभी विभागों के प्रोफेसर, डीन, कॉलेज रजिस्ट्रार आदि सभी ने भी इस ऐतिहासिक समारोह में बहुत उत्साह पूर्वक शिरकत दी।

When UT Administration Came — One & All to our Alma Mater — A Rare Occasion — Thanks to President Ram Nath Kovind having accepted the Institute’s Request to Grace the 16th Mega Event

कार्यक्रम की शुरुआत करते हुए पैक के डायरेक्टर प्रोफेसर डॉ बलदेव सेतिया ने संस्थान के 100 वर्ष के सुनहरे अतीत की सभी विशेष उपलब्धियों के बारे में बताया।

पैक एलुमनाई और यू टी एडवाइजर धरम पाल ने कल्पना चावला और सतीश धवन को याद करते हुए कहा के इन दोनों की सर्वोच्च उप्लभ्धियों ने कॉलेज की विशेष पहचान न केवल देश में पर पूरी दुनिया में भी कायम कर दी।

इस पूरे वर्ष के दौरान चलते समारोहों में, और देश के राष्ट्रपति की व्यस्तता को देखते हुए उनका संस्थान में आना एक सप्ताह बाद यानी के नवंबर 16 को ही सुनिश्चित हो पाया था और अब उनके आगमन के कार्यक्रम व् पूरे प्रोटोकॉल की व्यवस्था हेतु समस्त निर्देश भी चंडीगढ़ प्रशासन और संस्थान को कल मिल गए हैं।

सूचना के अनुसार राष्ट्रपति महोदय 16 नवंबर को दिन में 12 बजे संस्थान में पहुंचें गे और लगभग एक घंटे का समय व्यतीत करेंगे। इस समारोह में चंडीगढ़ यूनियन टेरिटरी के एडमिनिस्ट्रेटर बनवारी लाल पुरोहित के इलावा पंजाब और हरयाणा के मुख्य मंत्री भी शामिल रहेंगे।

(*Author Tejinder Singh Bedi is a former technocrat, a people management, CSR Adviser, free-lance writer and a passionate singer)

(*Author Tejinder Singh Bedi is a former technocrat, a people management, CSR Adviser, free-lance writer and a passionate singer)